Dharma Itihaas – सर्वश्रेष्ठ कौन ?

(30 customer reviews)

151

  1. इस पुस्तक के नाम से ही पता लग रहा है कि देश, धर्म, जाति, इतिहास तथा मानवता के अनसुलझे प्रश्नों की अमूल्य जानकारियां इस एक ही पुस्तक में संकलित हैं । जो गहरी बातें आपको आज तक किसी तथाकथित धर्मगुरु, तीर्थ, मस्जिद, चर्च तथा गुरुद्वारों में नहीं बताई गयी वह इस एक ही पुस्तक से जानने को मिल जायेंगी । अधिकांश मनुष्य जिन प्रश्नों को लेकर पैदा होते हैं उनके उत्तर खोजे बिना ही मर भी जाते हैं । जिसने यह एक पुस्तक पढ़ ली समझो उसने संसार के सभी धर्मों की पुस्तकें पढ़ ली । यह पुस्तक पाठक के सामने एक ऐसा द्वार खोल देगी जिसके उस पार मानवीय स्वर्ग का अद्भुत दृश्य दिखाई देगा ।

विशेष : हमारा परामर्श (सलाह) है कि आप Thanks Bharat पर अपना Account अवश्य Register करें । ऐसा करके पुस्तक क्रय करने पर वह पुस्तक सदैव आपके Thanks Bharat के Account में सुरक्षित रहेगी तथा आप कभी भी अपनी ईमेल तथा पासवर्ड से Login करके पुस्तक को बार बार डाउनलोड कर सकते हैं । आप बिना Account बनाये भी केवल Billing Address से सम्बंधित जानकारी देकर भी पुस्तकें क्रय कर सकते हैं जिसका डाउनलोड लिंक आपको तुरंत ईमेल पर भेज दिया जायेगा । भारतीय लोग PayUMoney को सेलेक्ट करके किसी भी बैंक से Internet Banking, Credit, Debit card, UPI, Paytm or Phonepe से payment कर सकते हैं । विदेशी लोग Currency Change करके PayPal द्वारा payment कर सकते हैं।

सर्वश्रेष्ठ कौन ? पुस्तक क्यों पढ़ें तथा कैसे खरीदें (Click to read)

 

Description

  • Dharma Sankat or Dilemma

Every one has many doubts related to religion. Who is God ? How and Where is the supreme power ? Does God exist or not ? Can we prove our religious theories by science ? What about the religion found in today’s world ? Which is Good among them ? Do we need religion ? Did god give his book to human beings ? If yes, which book was that ? If not, why there are thousands of god’s books ? Who are Hindus, Muslims, Christians, Jewish, Guebre, Boddh, Jain, Sikh, Atheist ? Who are we ? When did history of human start ? Which was the first religion of the world ? Which was the first language of the world ? What is death ? What will happen after death ? This book will clear your thousands of religious and historical doubts. It contains everything you should know about God, Religion, Humans and History. This book will reveal many amazing secrets before you.

 

About the product

Author – Rahul Arya

Total pages – 362 Pages

Version – eBook – PDF

Size – 5.8” x 8.3”

Shipping

Please note, this is a digital product. No physical book will be delivered. You will be provided with a link to download the pdf file(s) immediately on your email and in your thanks bharat account once the purchase has been made successfully.

30 reviews for Dharma Itihaas – सर्वश्रेष्ठ कौन ?

  1. Avatar

    Arpi

    Jai shree ram

  2. Avatar

    सुनील आर्य

    अद्भुत पुस्तक अवश्य पढ़े

  3. Avatar

    Bhartiyapp (verified owner)

    युवाओं को यह पुस्तक **highly recommend **करती हूँ🙏🙏

  4. Avatar

    Bhartiyapp (verified owner)

    प्रणाम् राहुल जी, व उनके सभी साथियों को🙏
    १.मैंने राहुल जी के youtube पर जब से वीडियो देखें हैं, तब से जैसे एक नया ही जन्म हुआ है मेरा, क्योंकि अज्ञानता की सारा धूल हटती गयी, और वह ज्ञान, जिसे प्राप्त करने का मैं बहुत समय से प्रयास कर रही थी, मुझे मिल गया।
    २.पुस्तक पर आती हूँ,
    जैसे ही मुझे पता चला कि राहुल जी ने पुस्तक लिखी है, मैंने तुरंत आर्डर कर दी। यह पुस्तक पढ़ने बैठी तो आंखें उठा ही नहीं सकी, इतनी रोचक और सरल भाषा में है पुस्तक ।प्रत्येक पंक्ति ज्ञानवर्धन करती है।
    ३.पुस्तक बहुत ही सरल भाषा में है, जो किसी भी सामान्य व्यक्ति के समझ के अनुकूल है। जिस प्रकार से आपने आम जीवन के उदाहरणों को लेते हुए ईश्वर की प्रभुसत्ता को सिद्ध करने हेतु बड़ी बुद्धि पूर्वक तर्क दिए हैं, वे किसी भी व्यक्ति को स्वयं सोचने पर मजबूर करते हैं।
    ४. न केवल सोचने पर मजबूर करते हैं, अपितु आपकी पुस्तक में दिए गए आश्चर्य करने वाले तथ्यों को जानकर तो पाठक अवश्य ही उन सभी विषयों से संबंधित पुस्तकों का अध्ययन करने के लिए उत्सुक होता है।
    ५.पुस्तक में ईश्वर के होने तथा सभी मत, पंथ, संप्रदायों के ऊपर, वेदों के ईश्वरीय होने का जो प्रमाण प्रस्तुत किया गया है, वह बहुत सुंदर प्रकार् से, क्रमबद्ध रूप में किया है, जो लेखक के गहन अध्ययन, तार्किक क्षमता व ज्ञान के प्रतिपादन करने की उच्च कोटि की क्षमता को दर्शाता है।
    ६. पुस्तक में विमान शास्त्र अतीव रोचक विषय प्रस्तुत किया गया है, तथा उस विषय को जिस प्रकार इतिहास से जोड़ते हुए, “विज्ञान सदैव विद्यमान रहा है और हमेशा से ही तकनीक के उच्चतम शिखर पर आया, और फिर समाप्त हुआ, और फिर पुनः मनुष्य ने प्रगति की,” इसका बहुत सुंदर प्रमाण प्रस्तुत किये गए हैं, ।
    ७.पुस्तक् का वह हिस्सा पढ़कर मैं वास्तव में सोच में पड़ गयी कि हम कितने अंधेरे में थे!! हम इन 100-200 वर्षों को ही मनुष्यों की प्रगति के सर्वोच्च वर्ष रहे, ऐसा मानकर कितने अंधेरे में जी रहे हैं, जबकि हमारे समक्ष ही मंदिरों के रूप में आज से सहस्त्रों गुना अधिक तकनीकी रूप से समृद्ध कलाकृतियां व स्थापत्य के नमूने हैं।
    ८. हिटलर का जो सकारात्मक चित्रण है, वह भी सोचने पर मजबूर करता है। इतिहास को किस प्रकार भ्रष्ट किया गया, और आज भी उस भ्रष्टता के बीज फल रहे हैं, यह बखूबी पुस्तक में बताया गया है।
    ९.कुल मिलाकर आपने एक ही पुस्तक में अनेकों विषयों को संक्षिप्त में समाहित करके, इस पुस्तक को पाठकों के लिए अनेकों पुस्तकों का निचोड़ देने का सुंदर व सफल प्रयास किया है, साथ ही, आपकी यह पुस्तक पाठक को ज्ञानवर्धन के लिए और अधिक पुस्तको का अध्ययन करने हेतु उत्प्रेरित करती है। Your book is like a DRIVING FORCE to further increase the knowledge.
    १०. मैंने एक पोस्ट देखी थी जिसमें शायद किसी ने आपकी पुस्तक पर केस करा है। वह अवश्य ही “तथाकथित सेक्युलर” होगा, क्योंकि मुझे इस पुस्तक में पक्षपात का लेश मात्र अंश तो दिखा नहीं। उल्टे, केवल और केवल सत्य ही सत्य, ज्ञान ही ज्ञान, और ज्ञान चक्षु खुलते हुए प्रतीत हुए……
    धन्यवाद।
    प्रियंका पाराशर

  5. Avatar

    Aman Arora

    Bahut accha karya kiya h. Rashtravad ki alakh jaalte rho sabhi yuvao me

  6. Avatar

    Sawan Mehla (verified owner)

    राहुल भाई जी पुस्तक पढ़ने के बाद हमें अपने बहुत से प्रशनो के उत्तर प्राप्त हुए हैं धन्यवाद आपका

  7. Avatar

    लाला राम

    पशु से मनुष्य बना देते हैं आपके शब्दों में वो ताकत है मैं अपने आप को भाग्य वान मानता हूं जो मैं थैक्स भारत से जुडा हुआ हूँ

  8. Avatar

    राजेश आर्य

    यह पुस्तक किसी भी विधर्मी के सीने में गोली के समान लगनी तय है आदरणीय राहुल भाई को इस पुस्तक की रचना करने पर समस्त आर्य बंधु उनका हार्दिक आभार प्रकट करते हैं

  9. Avatar

    शिवांग शुक्ला

    एकदम सत्य

  10. Avatar

    vidyasagar (verified owner)

    यह पुस्तक अत्यंत सरल शब्दों में सामान्य जन को बहुत कुछ सिखाती है । राहुल आर्य जी कभी कभी बहुत जटिल शब्द और सिद्धांत बोलते है जो समझ नहीं आते, किन्तु इस पुस्तक में अलग तरह से एकदम basic शब्दों, भाषा तथा उदाहरणों से समझाया है ।

  11. Avatar

    Adarsh Singh

    Very nice book

  12. Avatar

    Narveer Maan Jaat

    Bhut Bdya rahul bhai
    bhut achi book h isko padne k baad bhut kuch smaj me aaya 👍

  13. Avatar

    राजेश प्रजापती

    हमने यह पुस्तक पढि और पढने के बाद हम हमारे पुरे सवालो के जवाब हम मील गए वो भी पुरे प्रमाणो के साथ । बहोत हि कम मूल्य मे उपलब्ध है हमारे हिसाब से यह पुस्तक अमूल्य है इसका कोई मूल्य नही। बहोत बहोत धन्यवाद राहुल जी का की उन्होंने यह पुस्तक लिखी।

  14. Avatar

    राजेश प्रजापती

    बहुत ही बढिया पुस्तक लीखी है राहुल आर्य जी ने। हमने पढ और हमारे सारे सवालों के जवाब हम मील गए। हर वयक्ति को इह पुस्तक को पढना चाहीए । आनंद आ गया इस पुस्तक को पढ कर। हम बहोत बहोत धन्यवाद करना चाहेगें राहुल जी का। बहुत हि कम मूल्य मे उपलब्ध है यह पुस्तक। हमारे हिसाब से इस पुस्तक का कोई मूल्य नही है अमूल्य है यह पुस्तक। धन्यवाद ।

  15. Avatar

    Utsav agrawal

    Bahut acchi pustak he sabhi logo ko jarur padna chahiye

  16. Avatar

    Utsav agrawal

    Bahut achhi book he …Har hindu ko yah book pani chahiye

  17. Avatar

    Akash

    Best Book, everyone must read book.

  18. Avatar

    Saurabh gate (verified owner)

    आनंद आ गया इस पुस्तक को पढ़कर बहुत सारी ज्ञान विज्ञान और संसार से संबंधित बहुत कुछ महत्वपूर्ण जानकारी इसमें भरी पड़ी है इस पुस्तक जितना भी प्रशंसा करूं कम है , और सब से निवेदन है कि इस पुस्तक को अवश्य पढे और अन्य लोगों को भी पढावे बच्चों से लेकर बड़ों तक हर व्यक्ति को इस पुस्तक को पढ़ना चाहिए 🙏🙏🙏

  19. Avatar

    महेंद्र सिंह आर्य

    Very good

  20. Avatar

    Vivek Kumar Mehta

    Great book 👍👍

  21. Avatar

    Digvijay Singh (verified owner)

    राहुल आर्य जी की लिखी ई-पुस्तक(E-Book) “सर्वश्रेष्ठ कौन” thanksbharat.com से आज सुबह क्रय करके 362 पृष्ठ की इस अत्यंत ज्ञानवर्धक व सत्यान्वेषी, अनमोल जानकारियों से युक्त पुस्तक को अभी – अभी पढ़कर पूरा किया। राहुल आर्य जी ने पुस्तक इतनी सार्थक, समयानुकूल, वैज्ञानिक सूझ-बूझ, तर्कसंगत ढंग से क्रमबद्ध, सरल भाषा में आसानी से समझने योग्य रोचक उदाहरण सहित लिखा है कि सुबह से इस पुस्तक को जैसे ही हमने क्रय किया तबसे कुछ आवश्यक कार्यों को छोड़कर लगातार पूरी पुस्तक भली-भाँति अच्छे से तर्कपूर्ण विचार करते हुए पढ़कर अभी – अभी पूरा किया और जरा भी थकावट या बोरियत का एहसास नहीं हुआ। एक बार इस पुस्तक को पूरा अवश्य पढ़ें। आशा ही नहीं पूरा विश्वास है कि बहुत से गूढ़ से गूढ़ प्रश्नों व कठिन से कठिन परिस्थितियों से पार पाने का अदम्य उत्साह व साहस का संचार होगा। जो सम्भवतः इतने कम समय में सरल, रोचक, तर्क व बुद्धि- विवेक की कसौटी पर पूर्णतः खरी, समयानुकूल, आसान उदाहरणों से कहीं अन्यत्र दुर्लभ हो।

    आप सबसे भी विनम्र आग्रह है कि यह ई-पुस्तक प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन क्रय कर के तुरन्त प्राप्त कर स्वाध्याय का आनन्द एक बार अवश्य लें। पूरी पुस्तक पढ़ने के बाद ही पुस्तक व लेखक के बारे में कोई धारणा बनावें, आधा-अधूरा पढ़कर नहीं। अतः इस बहुमूल्य पुस्तक का कम से कम एक बार समग्र अध्ययन अवश्य करें व अन्यों को प्रेरित करें।

    एक बार राहुल आर्य जी व Thanks Bharat की पूरी टीम को उनके समाज, राष्ट्र व विश्वहित के प्रयासों के लिए हृदयवत साधुवाद। ईश्वर आप सबको स्वस्थ, दीर्घायु जीवन प्रदान करें।

    धन्यवाद। कोटिशः नमन आप सबको🙏🙏🙏

  22. Avatar

    Narendra Singh (verified owner)

    अभी pdf प्राप्त हुई है,
    अभी विषय पढ़ा है बहुत अच्छा लग रहा है,
    आपसे हमेशा ही ज्ञानवर्धक जानकारी मिलती है,
    इस पुस्तक में भी बहुत ज्ञान होगा ,
    इस पुस्तक हेतु आपका बहुत बहुत आभार

  23. Avatar

    Raj Kumar (verified owner)

    इस पुस्तक को पढ़के मेरे ज्ञान मे बहुत बृद्धि हुई , ओर आशा करता हूँ भविस्य मे और भी ऐसी ज्ञानवर्धक पुस्तक हमारे बीच मैं लाते रहें।जिससे सनातान धर्म की शिक्षा को फिर से लोगो के बीच जाग्रत किया जा सके।

  24. Avatar

    mohit (verified owner)

    कम शब्दों में कहूं तो बहुत ही सूंदर पुस्तक है। अपने ज्ञान की उन्नति के लिए जीवन में एक बार यह पुस्तक सभी को अवश्य पढ़नी चाहिए , ऐसा मेरा मानना है और मेरा मानना गलत नहीं है जब यह पुस्तक आप पड़ेंगे तो जान जायेंगे।

  25. Avatar

    Shivji Shukla (verified owner)

    Maine is pustak ko ek din me khatm kiya… Shuru se last tak.. aur bohot hi achha aur gyanvardhak anubhav hua.. kaamna karta hu bhavishya me aur bhi pustake padhne ko zarur milengi

    • Thanks Bharat

      Thanks Bharat

      पुस्तक के प्रति आपकी रुचि, श्रद्धा तथा ज्ञान प्राप्ति हेतु आपका पुरुषार्थ प्रशंसनीय है ।

  26. Avatar

    Shivji Shukla (verified owner)

    isme pramaan kram anusar aur sameeksha ke sath bohot achhe vistar aur dumdar samajhne wale bhashya ke sath likhe hain Rahul bhaiya ne.. great pustak

  27. Avatar

    Yugal bhatt

    It’s amazing with logical facts. Must read.

  28. Avatar

    कोमल आर्या

    Everybody should read this book.

  29. Avatar

    महेंद्र सिंह आर्य

    Good

  30. Avatar

    Rohit (verified owner)

    Amazing book written by rahul aryaji .

Add a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *